Go to ...
RSS Feed

उदयपुर के फोटो जर्नलिस्ट ताराचंद गवारिया को मिला स्ट्रीट फोटोग्राफी का नेशनल अवार्ड



अपनी बेहतरिन फोटोग्राफी से देश-प्रदेश में नाम कर चुके युवा फोटोजर्नलिस्ट उदयपुर निवासी ताराचंद गवारिया को एक ऑनलाईन फोटो प्रतियोगिता में नेशनल अवार्ड से नवाज़ा गया है। इस अवार्ड के तहत गवारिया को उनके इस फोटोग्राफ के लिए एक लाख रुपये का पुरस्कार प्रदान किया गया है।
देश की जानी-मानी फोटोग्राफी वेबसाईट क्लिकमेनिया द्वारा आयोजित इस नेशनल ऑनलाईन फोटो प्रतियोगिता में स्ट्रीट फोटोग्राफी का प्रथम पुरस्कार प्रदान किया गया है। वेबसाईट द्वारा शुक्रवार को गवारिया के इस नेशनल अवार्ड प्रदान किए जाने की सूचना प्रदान करते हुए एक लाख रुपये पुरस्कार की घोषणा की। इस प्रतियोगिता में देशभर से फोटोग्राफर्स के हजारों फोटोग्राफ में गवारिया के सिंहस्थ महाकुंभ में हिरण के फोटो का चयन किया गया है। प्रतियोगिता के तहत 50 हजार रुपये का द्वितीय पुरस्कार डिंपल पंचोली को तथा 20 हजार रुपये का तृतीय पुरस्कार राखीज गुप्ता को प्रदान किया गया है।
उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व इसी फोटोग्राफ पर चित्रकुट धाम स्थित रावतपुरा सरकार न्यास की तरफ से सिंहस्थ कुंभ विषय पर आयोजित हुई फोटोग्राफी प्रतियोगिता में भी एक लाख रुपये का प्रथम पुरस्कार प्रदान किया गया था। इसके अलावा भी गवारिया को फोटोग्राफी के कई राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय अवार्ड प्राप्त हो चुके हैं। गवारिया को पुनः राष्ट्रीय स्तर के पुरस्कार प्राप्त करने पर उदयपुर, डूंगरपुर और बांसवाड़ा जिले के मित्रवर्ग के साथ मीडियाकर्मियों ने खुशी जताई और शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए कहा है कि गवारिया ने अपने कौशल से फोटोग्राफी जगत में भी उदयपुर को देशव्यापी पहचान दी है।
सिंहस्थ कुंभ का हिरण देशभर में छाया:
ताराचंद गवारिया को जिस फोटो पर पहला पुरूस्कार मिला वह नागा साधुओं की दीक्षा से संबंधित था। यह फोटो गवारिया द्वारा जूना अखाड़ा की तरफ से सिंहस्थ महाकुंभ की भूखी माता घाट पर हुई पहली नागा दीक्षा के दौरान लिया गया था। इस फोटो में दीक्षा के दौरान मूसलाधार बारिश में एक हिरण अपने स्वामी (नागा साधु बनने वाला) के पास खड़ा था। फोटो में गवारिया ने तेज बारिश में कांपते नागा साधु और बारिश में भीगते हुए हिरण को क्लिक किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *