Go to ...
RSS Feed

मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान के तीसरे चरण का शुभारंभ



मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के तीसरे चरण का जिले में आगाज शनिवार को मावली की बड़गांव पंचायत स्थित त्रिशूल का नाका एनिकट के रिनोवेशन कार्य के साथ हुआ। जिला प्रभारी मंत्री धनसिंह रावत ने जिला स्तरीय समारोह में तीसरे चरण की शुरुआत की।

इस अवसर पर रावत ने कहा कि प्रदेश की मुख्यमंत्री ने गांवों को जल के मामले में आत्मनिर्भर बनाने का सपना देखा और जल स्वावलम्बन अभियान प्रारम्भ किया। पूर्व के दोनों चरणों के आशातीत परिणाम मिले हैं। भूमिगत जलस्तर ऊंचा ऊठा है और कई इलाके डार्क जोन से बाहर आए हैं। उदयपुर जिले में अभियान के तहत सर्वाधिक कार्य हुए हैं। मुख्यमंत्री की उम्मीद पर खरा उतरते हुए हमें तीसरे चरण को सफलतापूर्वक पूर्ण करना है। इस अवसर पर क्षेत्रीय विधायक दलीचंद डांगी, मावली के एसडीएम जितेन्द्र ओझा, जलग्रहण विभाग के अधीक्षण अभियंता सी.एल.सालवी सहित अन्य जनप्रतिनिधि, सामाजिक धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधि को सहित अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे। अतिथियों ने विधिवत् पूजा-अर्चना कर कार्य का शुभारंभ किया।

248 गांवों में होंगे कार्य

शनिवार को जिले की 104 ग्राम पंचायतों के 248 गांवों में एक साथ इस अभियान की शुरूआत हुई। तीसरे चरण के तहत स्वीकृत कार्यों में जलग्रहण विकास विभाग द्वारा 63550 कार्यों पर 5615.88 लाख, वन विभाग द्वारा 2007 कार्यों पर 1887.7 लाख, जल संसाधन विभाग द्वारा 107 कार्यों पर 2066.65 लाख, ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग द्वारा 873 कार्यों पर 1784.41 लाख, कृषि एवं उद्यानिकी विभाग द्वारा 317 कार्यों पर 27.181 लाख, जनस्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी विभाग द्वारा 162 कार्यों पर 336.94 लाख तथा भू-जल विभाग द्वारा 10 कार्यों पर 6.22 लाख की राशि व्यय की जाएगी। तृतीय चरण के कार्य पूर्ण करने का लक्ष्य 31 मई 2018 तक निर्धारित किया गया है।

मिला 32 हजार 700 रुपयो का जनसहयोग

कार्यक्रम के दौरान क्षेत्रवासियों ने अभियान के प्रति अपनी भागीदारी सुनिश्चित करते हुए 32 हजार 700 रुपयो का सहयोग करने की घोषणा की। जिसमें 11 हजार रुपये का चैक हाथो-हाथ प्रदान किया गया। साथ ही आमजन ने अभियान को सफल बनाने के लिए हरसंभव सहयोग देने की बात कही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *