Go to ...
RSS Feed

lake

18-19 नवंबर को होगा लेक फेस्टिवल 2017

18-19 नवंबर को होने वाले लेक फेस्टिवल में इस बार मॉडल के माध्यम से बताया जायेगा कि हमारे पुरखे कैसे बारिश कि बून्द-बून्द को संरक्षित करते थे।इससे लोगो को जल संरक्षण कि जानकारी होने के साथ साथ झील संरक्षण कि जागरूकता भी आएगी।दोनों दिन शाम 5 से 7 बजे तक पर्यटन विभाग मुम्बइया बाजार के

जयसमंद छलकने को आतुर

जयसमंद को छलकने के लिए करीब सवा फ़ीट पानी की जरुरत है,झील में आवक अभी बनी हुई है,27.5 फ़ीट पूर्ण जलस्तर वाले जयसमंद का जलस्तर मंगलवार शाम को 27.3 स्तर से ऊपर पहुंच गया।यदि केचमेंट में तेज बारिश होती है एंवम मौजूदा जल आवक बनी रहती है तो जयसमंद तीन दिन में एक बार छलक

फतहसागर लबालब,कल गेट खुले

मदार नहर से आवक बानी रहने के फलस्वरूप फतहसागर झील के गेट बुधवार को खोल दिए गए।इसका पता चलते ही उदयपुरवासी फतहसागर पाल पर उमड़ पड़े।ओवरफ्लो पॉइंट पर रौशनी की व्यवस्था की गयी थी।

पिछोला लबालब,स्वरूपसागर के गेट दो-दो फ़ीट खुले

फतहसागर झील में मदार नहर से हो रही आवक के चलते शनिवार रात इसका जलस्तर 11 फ़ीट को पार कर गया।पिछोला लबालब होने से स्वरूपसागर के गेट दो-दो फ़ीट खुले हुए है। स्वरूपसागर से पानी तेज प्रवाह के साथ उदयसागर झील में समां रहा है।

स्वरुप सागर लिंक नहर का गेट खोलने के बाद फतेहसागर में जाता पानी

स्वरुप सागर लिंक नहर का गेट खोलने के बाद फतेहसागर में जाता पानी,कल सुबह लिंक नहर के गेट खोल दिए गए थे। प्रमुख झीलों का जलस्तर इस प्रकार है-> झील                 क्षमता        जलस्तर फतेहसागर        14                      8 पिछोला             11                      9.6 बड़ी                  32                      16

बड़ी तालाब में चल रही है,अब पिछोला-फतेहसागर में भी चलेगी सोलर बोट

बड़ी तालाब में चल रही है,अब पिछोला-फतेहसागर में भी चलेगी सोलर बोट।अभी पेर्ट्रोल से बोट का संचालन होता है।स्पीड बोट को सोलर से चलाना संभव नहीं होगा इसलिए उन्हें पेट्रोल से ही चलाया जायेगा। झीलों को प्रदुषण मुक्त करने की दिशा में यह अछी पहल है।